इस्लामिक संगठन पॉपुलर फ्रंट ऑफ इंडिया ने लगाए बाबरी को ना भूलने के पोस्टर

इस्लामिक संगठन पॉपुलर फ्रंट ऑफ इंडिया ने लगाए बाबरी को ना भूलने के पोस्टर

कटिहार के कलेक्टर- एसपी कार्यालय के बाहर लगे पोस्टर, हाई अलर्ट

 कटिहार

6 दिसंबर का दिन बाबरी ढांचे के विध्वंस के लिए जाना जाता है लेकिन आज ही के दिन उस समय बिहार में सनसनी मच गई जब उपमुख्यमंत्री तारकिशोर प्रसाद सिंह के शहर कटिहार में इस्लामिक संगठन पॉपुलर फ्रंट ऑफ इंडिया यानी कि पीएफआई ने कटिहार में कई स्थानों पर बाबरी मस्जिद की याद में पोस्टर लगाए। यह पोस्टर हिंदी और उर्दू में लगाए गए हैं और इसमें लिखा गया है कि दिन फिर से बाबरी का उदय होगा। पोस्टर पर यह भी लिखा गया है कि कहीं हम भूल ना जाएं। 

पूरे मामले का महत्वपूर्ण पक्ष यह है कि यह पोस्टर कटिहार के कलेक्टर और एसपी ऑफिस के बाहर लगाए गए हैं और उन्हें इसकी कानो कान खबर नहीं है। बाद में पुलिस ने इन पोस्टरों को हटवाया और पीएफआई के खिलाफ प्रकरण दर्ज किया है।  इस मामले में प्रदेश के उपमुख्यमंत्री तारकिशोर प्रसाद सिंह ने कहा है कि मामले की जांच कराई जा रही है।  

भाजपा को चुनौती!

कटिहार में इस तरह के पोस्टर लगाने के पीछे कारण बताया जा रहा है कि बिहार के वर्तमान उपमुख्यमंत्री तारकिशोर प्रसाद सिंह यहीं के निवासी हैं। इस तरह से इन पोस्टर्स को उपमुख्यमंत्री और भाजपा को चुनौती के रूप में देखा जा रहा है।  कटिहार, पूर्णिया और किशनगंज के इलाके में पिछले कुछ समय से पीएफआई की गतिविधियां तेजी से बढ़ी हैं लेकिन इस मामले में प्रशासन सुस्त है। पोस्टर लगने के बाद भी पुलिस और प्रशासन ने इस पर कोई प्रतिक्रिया नहीं दी । इन क्षेत्रों नें औवेसी की पार्टी भी सक्रिय है।

सीएए एनआरसी का भी किया था विरोध

पीएफआई ने सीएए और एनआरसी का विरोध किया था।  इनके विरोध में आयोजित हुए धरना को पीएफआई ने आर्थिक मदद भी दी थी। झारखंड सहित देश के कई राज्यों में यह संगठन प्रतिबंधित कर दिया गया है लेकिन भाजपा के सत्ता में होने के बाद भी बिहार में अब तक पीएफआई पर प्रतिबंध नहीं लगाया गया है जबकि पड़ोसी राज्य झारखंड पिछले वर्ष इस संगठन को प्रतिबंधित कर चुका है। 

ekatma

Related Posts

तमिलनाडु में अब निकलेगा संघ का पथ संचलन, सरकार के मना करने के बाद हाई कोर्ट ने दी अनुमति

तमिलनाडु में अब निकलेगा संघ का पथ संचलन, सरकार के मना करने के बाद हाई कोर्ट ने दी अनुमति

हिन्दू लड़के से शादी करने वाली जीनत को परिजनों ने बनाया बंधक, जबरन करा रहे निकाह, वीडियो बना मांगी मदद

हिन्दू लड़के से शादी करने वाली जीनत को परिजनों ने बनाया बंधक, जबरन करा रहे निकाह, वीडियो बना मांगी मदद

विचित्र : हिन्दू पति की अनुकंपा नियुक्ति से मिली नौकरी के पैसों पर मुस्लिम बनी महिला की हिन्दू बेटियों का अधिकार नहीं

विचित्र : हिन्दू पति की अनुकंपा नियुक्ति से मिली नौकरी के पैसों पर मुस्लिम बनी महिला की हिन्दू बेटियों का अधिकार नहीं

संघ को समझने के लिए दिमाग नहीं, दिल चाहिए – दत्तात्रेय होसबाले जी

संघ को समझने के लिए दिमाग नहीं, दिल चाहिए – दत्तात्रेय होसबाले जी

Recent Posts

Recent Comments

Archives

Categories

Meta